विदेशी भाषा में करियर – Career in foreign language

भारतीय विधार्थी इंडस्ट्री में तेज़ी से आगे बढ़ रहे है। 21वी सदी मे भारतीय विद्यार्थीयो की बहुत मांग है। जिसकी वजह से विद्यार्थीयो मे इंजिनियर, वैज्ञानिक और डॉक्टर के अलावा फॉरेन लैंग्वेज को सिखने वालो की भी डिमांड बढ़ती जा रही है। जिससे फॉरेन लैंग्वेज सीखने और सीखाने वालो की डिमांड बाद रही है।अगर आप भी फॉरेन लैंग्वेज में अपना करियर बनाने की सोच रहे है। तो इसमे ढेरो विकल्प है। जिससे आप को अच्छी नौकरी के कई मौके मिलते है।

जो विदेशी भाषा में करियर बनाना चाहते है। उनके लिए यह ब्लॉग फायदेमंद साबित होगा। तो आज हम फॉरेन लैंग्वेज में करियर कैसे बनाए, इस बारे मे पढेंगे।

विदेशी भाषा के कोर्स

भारतीय विधार्थी ज्यादातर 12वी के बाद ही विदेशी भाषा मे एडमिशन लेते है। अलग अलग विदेशी भाषा मे अलग अलग कोर्स मौजूद है। कुछ विद्यार्थी कॉलेज के बाद भी पोस्ट ग्रेजुएशन विदेशी भाषा मे करते है।

  • Certificate Course – 6 Months to 1 Year
  • Diploma Course – 1 Year
  • B.A. – 3 Years
  • M.A. – 2 Years
  • M.Phil. – 2 Years
  • Ph.D. – 2 to 4 Years

कोर्स और कोर्स का समय अलग अलग है। आप अपनी वर्तमान पढ़ाई के हिसाब से कोर्स मे एडमिशन ले सकते है।

शिक्षा और योग्यता – Education and Qualification

विदेशी भाषा सीखने के लिए किसी विशेष शिक्षा और योग्यता का होना जरुरी नहीं है। आप कम से कम 12वी करके भी एक साल या 3 साल के कोर्स मे एडमिशन ले सकते है। कुछ कॉलेज और संस्थान तो आप को विदेशी भाषा मे Part time और Full time कोर्स करने का ऑप्शन भी देते है। विदेशी भाषा के कोर्स मे फीस अलग अलग संस्थान मे अलग होती है।

किस विदेशी भाषा की अधिक मांग – Demanding Language

कोर्स से पहले यही बात दिमाग मे आती है, की कोनसी विदेशी भाषा सीखी जाये। क्यों की हम लोगो की बातो मे आकर गलत कोर्स मे एडमिशन ले लेते है। जिससे विद्यार्थियो का समय और धन बर्बाद हो जाता है।

इसलिए हम कुछ ऐसी विदेशी भाषा के बारे मे बताएँगे। की आप उन विदेशी भाषाओ मे अपने अपना करियर बना सकते हो।

  • मंदारिन भाषा
  • फ्रेंच भाषा
  • पुर्तगाली भाषा
  • स्पेनिश भाषा
  • रूसी भाषा
  • अरबी भाषा
  • जर्मन भाषा
  • कोरियाई भाषा
  • इटैलियन भाषा
  • जापानी भाषा

विदेशी भाषा के लिए एक्स्ट्रा स्किल्स – Skills for foreign languages

सबसे पहले तो आप यह सोच कर आये की आप को विदेशी भाषा का कोर्स करके करियर बनाना है। अगर आप टाइम पास के लिए ये कोर्स कर रहे है तो मेरी सलाह है। की फिर तो आप ये कोर्स ना ही करे। क्यों की इस से आप का समय और पैसे दोनों ही ख़राब हो जायेंगे।

बेसिक स्किल्स :-

  • आप को विदेशी भाषा सिखने मे interest हो तो ही आप ये कोर्स करे। टाइम पास ना करें।
  • आप विदेशी भाषा का प्रयोग किसी को बुरा भला बोलने को लिए ना करें।
  • विदेशी भाषा अच्छे से सीखने के लिए आप मे भाषा को सुनकर समझने की योग्यता होना जरुरी है।
  • विदेशी भाषा को जितना जल्दी बोलना सीखेंगे उतना अच्छा होगा।
  • किसी भी भाषा को अच्छे से सिखने के लिए उसकी व्याकरण को सीखना जरुरी है।

विदेशी भाषा सीखने के बाद सैलरी – Salary

विदेशी भाषा सिख कर आप अच्छे पैसे कमा सकते है। बहुत सी अच्छी कंपनी फ्रेशर को कम से कम 40 से 60 हजार तक की सैलरी देती है। वो डिपेंड करता है, की विदेशी भाषा पर पकड़ कैसी है। आप की विदेशी भाषा पर अच्छी पकड़ है। तो सालाना 8 से 10 लाख की सैलरी मिल सकती है। इसके अलावा आप फ्रीलांसर का काम करके भी 60 से 80 हजार तक कमा सकते हो।

क्या है गगनयान मिशन जानें।

विदेशी भाषा सीखने के बाद जॉब – Job after foreign language

विदेशी भाषा सीखने के बाद आप को जॉब के अच्छे ऑप्शन मिल जाते है। आप की जॉब विदेशी भाषा की पकड़ पर निर्भर करती है। आप को विदेशी भाषा सिख कर टूरिज्म, इंटरप्रेटर, BPO, टीचिंग, ट्रांसलेटर मे अच्छी जॉब मिल जाती है।

Tourism

आज के समय Tourism पूरी दुनिया के लिए बहुत बड़ा बिज़नेस बन चूका है। सभी देश Tourism को काफी बढ़ावा दे रहे है। क्यों की इससे देश मे काफी पैसा आता है। जिन लोगो को विदेशी भाषा आती है। वे गाइड बन कर अच्छा पैसा कमा रहे है। शुरुआत मे गाइड को 20 से 25,000 मिल जाता है। फिर एक्सपीरियंस के हिसाब से पैसे मिलते है।

Interpreter

Interpreter फील्ड मे भी आप अच्छा करियर बना सकते हो। इस फील्ड मे जॉब करनी है, तो आप को 2 विदेशी भाषाओ का ज्ञान होना जरुरी है। आप वीडियो कॉल पर दुनिया मे बैठे किसी भी व्यक्ति से उनकी भाषा मे मीटिंग कर सकते है। इस तरह आप विदेशी भाषा मे Interpreter बन कर अच्छी Salary मिल सकती हैं। 

Teaching

आप विदेशी भाषा सिख कर टीचिंग मे करियर बना सकते हो। किसी प्रतिष्ठित कोचिंग मे विदेशी भाषा के टीचर बन सकते है। इसके अलावा आप अपना खुद का कोचिंग सेंटर खोल सकते है। आप फ्रीलांसिंग का काम भी कर सकते है। आप विदेशी भाषा मे टीचिंग के रूप मे अच्छी कमाई कर सकते है।

Translator

आज के समय बहुत सी कंपनीयो के विदेशी क्लाइंट्स और बिज़नेस पार्टनर्स है। जिनसे बिज़नेस के बारे मे बात करने और विदेशी भाषा मे बात समझाने के लिए ट्रांसलेटर की जरुरत पड़ती है। अगर आप की किसी विदेशी भाषा मे कमांड है तो MNC कम्पनीज अच्छी सैलरी देती है।

विदेशी भाषा के जानकारो की बढ़ती डिमांड से इस फील्ड मे काफी जॉब की डिमांड भी बड गयी है। प्राइवेट के साथ साथ सरकारी ऑफिस मे भी लैंग्वेज Translator की जरुरत पड़ती है। जिससे अगर आप विदेशी लैंग्वेज सिखते है तो आप के विदेशी भाषा के करियर के लिए अच्छा ऑप्शन है।

BPO (Business Process Outsourcing)

विदेशी भाषा का सबसे बड़ा उपयोग BPO के फील्ड मे किया जाता है। विदेशी भाषा के बढ़ते उपयोग से डाटा प्रोसेसिंग की भी डिमांड बड़ गयी है। जिससे MNC कम्पनीया विदेशी भाषा के जानकर को अच्छी सैलरी मिल जाती है। और धीरे धीरे इसका स्कोप बड़ रहा है।

12 thoughts on “विदेशी भाषा में करियर – Career in foreign language

Comments are closed.